Wednesday, 17 March 2010

हाय लुटेरे कर्णा धार कहो तो कौन बचाए देश ,,(प्रवीण पथिक,)


हाय लुटेरे कर्णा धार कहो तो कौन बचाए देश ,,,
जन सेवक का ऐसा सत्कार कहो तो कौन बचाए देश,,,,,

4 comments:

वन्दना said...

jab janta aise karndharon ke hath mein desh ko saunpegi to phir kisse desh ko bachane ke liye kah rahe hain ..........apne katil ke hath mein talwaar de hi di hai to darna kya............yahan to sab khud lutne ko taiyaar hain.

Suman said...

nice

M VERMA said...

"हाय लुटेरे कर्णा धार कहो तो कौन बचाए देश ,,
जिसके लिये यह सन्देशा है
उन तक पहुँचाये कौन?

महाशक्ति said...

बहुत ही निराशा पूर्ण संदेश है यह, इस प्रकार तो भ्रष्‍टाचार प्रकटिकारण प्रत्‍यक्ष रूप से हो रहा है।